मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना 2023: रजिस्ट्रेशन एवं नि:शुल्क कोचिंग

शिक्षा प्रत्येक व्यक्ति का मौलिक अधिकार है। लेकिन कुछ लोग गरीब होने के कारण कोचिंग सेंटरों में दी जाने वाली शिक्षा का उच्च खर्च वहन नहीं कर सकते हैं। इसलिए, उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी गरीब वर्गों को यह सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया है। सरकार द्वारा मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना नामक एक नई योजना शुरू की गई है।

NOTE:- इस योजना का उद्देश्य उन लोगों के लिए कोचिंग लाभ की सुविधा प्रदान करना है जिनके पास पर्याप्त संसाधन और पैसे नहीं है। जो लोग इस योजना का लाभ उठाने के इच्छुक हैं वे सरकार के ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से अपना पंजीकरण करा सकते हैं।

अवश्य पढ़े, संत रविदास शिक्षा सहायता योजना

Table of Contents

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2023

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना, उत्तर प्रदेश सरकार श्री योगी आदित्यनाथ द्वारा 15 फरवरी 2021 को शुरू की गई थी।अभ्युदय योजना के हिस्से के रूप में, यूपी सरकार ने कोचिंग सेंटर स्थापित किए हैं और छात्रों को इंजीनियरिंग, नेशनल के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा के लिए तैयार करने के लिए मुफ्त कक्षाओं की पेशकश की है।

NOTE:- मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की पूरी कार्ययोजना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की सीधी निगरानी में तैयार की जा रही है। मुख्यमंत्री ने उत्तर प्रदेश दिवस के विशेष अवसर पर योजना की घोषणा करते हुए कहा है कि वह बसंत पंचमी से अपनी कक्षाएं शुरू करने के लिए तैयार है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की महत्वपूर्ण जानकारियां

  • इस कोचिंग में प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए विषय के चयन पर परीक्षा की तैयारी के तरीके, टिप्स, प्रश्नों के उत्तर लिखने की विधि, सामान्य अध्ययन के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा की जाएगी। इसके अलावा विशेष विशेषज्ञों की उपलब्धता के आधार पर विभिन्न विषयों की कक्षाएं भी संचालित की जाएगी।
  • प्रतियोगी परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवार यूपी सीएम अभ्युदय योजना के लिए अपना पंजीकरण करा सकते हैं। पंजीकरण प्रक्रिया 10 फरवरी 2021 से शुरू हो चुकी है। योजना के तहत कोचिंग कक्षाएं 16 फरवरी 2021 से ऑनलाइन और ऑफलाइन शुरू हो चुकी है।
  • नी शुल्क टैबलेट के लिए अभ्यर्थी का मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में पंचायत एवं संभागीय प्रशिक्षण केंद्र में प्रशिक्षण प्राप्त करना अनिवार्य है।
  •  अभ्युदय निशुल्क कोचिंग योजना:-उत्तर प्रदेश सरकार प्रतियोगी परीक्षा में बैठने वाले छात्रों के लिए अवसर खोलती हैं।
  •  यूपी सरकार के मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना, यूपीएससी, एनआईटी, आईआईटी और अन्य परीक्षा के उम्मीदवारों को मुफ्त कोचिंग प्रदान करती है।

इसे भी पढ़े,

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana 2023 Highlights

योजना का नाममुख्यमंत्री अभ्युदय योजना
लांच कीउत्तर प्रदेश सरकार ने
किसने शुरू कीयोगी आदित्यनाथ जी द्वारा
लाभार्थीउत्तर प्रदेश के छात्र
उद्देश्यप्रतियोगिताओं के लिए निशुल्क कोचिंग प्रदान करना।
वर्ष2023
आधिकारिक वेबसाइटhttp://abhyuday.up.gov.in/

उत्तर प्रदेश प्रशासन और प्रबंधन अकादमी

मुख्यमंत्री अभ्युदय  योजना में अध्ययन सामग्री का प्रबंधन और कुछ अन्य जिम्मेदारियां दी जाती है।इसके साथ ही प्रारंभिक परीक्षा में सफलतापूर्वक उत्तीर्ण होने वाले छात्रों के लिए मुख्य परीक्षा की तैयारी के लिए विशेष व्यवस्था करने को कहा गया है, जिनकी जिम्मेदारी भी उपम ( Upam) को सौंपी गई है।

पहले चरण में 18 संभागीय मुख्यालयों को योजना में शामिल किया गया है।इसके लिए जल्द ही ई- प्लेटफार्म( e-platfrom) विकसित किया जाएगा। ताकि छात्र ई- प्लेटफॉर्म के माध्यम से आसानी से ई- कंटेंट( e-content) प्राप्त कर सके। और ई- प्लेटफॉर्म पर सवाल पूछने का खास विकल्प भी होगा।

यही कारण है की 15 नवंबर से शुरू होने वाली कक्षाओं को फिलहाल के लिए रोक दिया गया है। संभाग के सभी जिलों में OF समितियां गठित है, प्रदेश के सभी 75 जिलों में एक साथ कक्षाएं शुरू होंगी।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत कार्यान्वयन

  • उत्तर प्रदेश सरकार ने Mukhyamantri Abhyudaya Yojana के सफल कार्यान्वयन के लिए 6 सदस्य राज्य स्तरीय समिति का गठन किया है।
  • अभ्युदय योजना के तहत, राज्य और देश में सर्वश्रेष्ठ संकाय कोचिंग सेवाएँ राज्य के छात्रों को उपलब्ध कराया जाएंगे।
  • युवाओं के बेहतर मार्गदर्शन के लिए संभागीय इलाके में कोचिंग संस्थान खोले गए हैं।
  • छात्रो को वर्चुअल माध्यम से भी जोड़ा जाएगा ताकि उन छात्रों को भी कोचिंग सेवाएँ प्रदान की जा सके जो संभागीय मुख्यालयों तक नहीं पहुंच सके।
  • मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के तहत शुरू किए गए कोचिंग संकाय तकनीकी सुविधाओं से संपन्न होंगे।
  • कोचिंग संस्थानों में कोचिंग राज्य के योग्य अधिकारियों, IAS, IPS, IFS, PCS आदि द्वारा प्रदान की जाएगी।
  • मेडिकलऔर इंजीनियरिंग क्षेत्र से जुड़े शिक्षक छात्रों को Medical और इंजीनियरिंग कोचिंग प्रदान करेंगे।
  • छात्राओं के लिए अभ्युदय योजना के तहत कैरियर कॉउंसलिंग सत्रों का आयोजन प्रत्येक जनपद के अनुसार पोर्टल एवं इंटरव्यू के आधार पर किया जायेगा।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना नी: शुल्क टैबलेट वितरण

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कर रहे अनूठे कोचिंग ‘अभ्युदय’के विद्यार्थियों को जल्द ही टैबलेट का तोहफा मिलने वाला है।योगी सरकार के ताजा बजट में इस संबंध में घोषणा के बाद जहाँ छात्रों में उत्साह है वहीं अधिक से अधिक युवाओं को लाभ देने के लिए एक बार फिर से पंजीकरण की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है।

मुख्यमंत्री ‘अभ्युदय’ योजना के तहत पंजीकृत लगभग 10,00,000 युवाओं को टैबलेट उपलब्ध कराने की योजना है ताकि उन्हें घर बैठे ही दुनिया की बेहतर जानकारी मिल सके।

कोचिंग में नामांकित छात्रों को टैबलेट प्रदान किए जाएंगे, यह उन्हें प्रवेश परीक्षा के माध्यम से दिया जाएगा। कोचिंग के लिए छात्रों का चयन करने के बाद योग्य मेधावी छात्रों को टैबलेट उपलब्ध कराने के दिशा निर्देश जारी किए जाएंगे। जिसके आधार पर उन्हें एक टैबलेट दिया जाएगा।

इसे भी पढ़े,

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की प्रमुख बिंदु

  • उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने छात्रों को विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी में मदद करने के लिए एक महत्वाकांक्षी, राज्यव्यापी,  मुफ्त कोचिंग सुविधा कार्यक्रम शुरू करने की घोषणा की।
  • यूपीएससी, जेई, एनआईटी, एनडीए,बैंक पीओ,TET, SSC जैसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करने वाला कोई भी उम्मीदवार वेबसाइट www.abhyuday.up.gov.in पर ऑनलाइन पंजीकरण कर सकता है।
  •  उम्मीदवार के नाम,आयु, मोबाइल नंबर, ईमेल पता आदि जैसे विवरण भरने होंगे, जिसके बाद एक शैक्षिक कैलेंडर और आवासीय कक्षाओं के लिए लिंक साझा किया जाएगा। कक्षाएं लगभग रोजाना सुबह और शाम के सत्रों में आयोजित की जाएंगी।
  • अभ्युदय नाम से निशुल्क कोचिंग की सुविधा आगामी बसंत पंचमी, विद्या की देवी सरस्वती की पूजा के दिन से शुरू की गई है।
  • छात्र आवासीय कक्षाओं में शिक्षकों पर प्रतिक्रिया साझा कर सकते हैं। इसी तरह, शिक्षक व छात्रों पर प्रतिक्रिया साझा कर सकते हैं और अच्छा प्रदर्शन करने वालों पर अधिक ध्यान दिया जाएगा।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का उद्देश्य

UP Mukhyamantri Abhyudaya Yojana का उद्देश्य आईएएस, आईपीएस, पीसीएस, एनडीए, सीडीएस, नीट जैसी प्रतियोगिताओं के लिए छात्रों को निशुल्क कोचिंग एवं आर्थिक सहायता प्रदान करना है। इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के सभी छात्र जो अपनी आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण कोचिंग नहीं प्राप्त कर सकते, उन सभी छात्रों को निशुल्क कोचिंग प्रदान की जाएगी।

  • इस योजना का उद्देश्य उन लोगों के लिए कोचिंग लाभ की सुविधा प्रदान करना है जिनके पास एक किताब खरीदने के लिए पर्याप्त संसाधन और पैसा नहीं है। जो इस योजना का लाभ लेने की इच्छुक हैं वे सरकार के ऑनलाइन वेबसाइट के माध्यम से अपना पंजीकरण करा सकते हैं।
  • अभ्युदय योजना समग्र विकास के लिए एक पथ प्रदर्शक है। जब कोविड प्रेरित लॉकडाउन के कारण उत्तर प्रदेश की लगभग 30,000 प्रतियोगी परीक्षा की संभावनाएँ कोटा और प्रयागराज में फंस गयी, तो राज्य सरकार ने इसी तरह की कोचिंग सुविधा प्रदान करने का निर्णय लिया ताकि उम्मीदवारों के लिए एक उपयुक्त वातावरण प्रदान कर सकें।

 मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की प्रमुख विशेषताएं

  1. मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा प्रदेश के स्थापना दिवस पर शुरू की गई थी।
  2. संभाग स्तर पर छात्रों के लिए पाठ्यक्रम और प्रश्न बैंक भी उपलब्ध कराया जाएगा।
  3. यह पूरी कार्ययोजना मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की देखरेख में तैयार की जा रही है।
  4. पाठ्यक्रम सामग्री भी यूट्यूब से ली जाएगी, साथ ही विभिन्न उच्च स्तरीय कोचिंग संस्थानों से अध्ययन सामग्री भी उपलब्ध कराई जाएगी।
  5. संभाग स्तर पर प्रशिक्षण केंद्रों के संचालन और समन्वय की जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश प्रशासन एवं प्रबंधन अकादमी को दी गयी है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना का लाभ

  • योजना के तहत छात्रों को ऑनलाइन अध्ययन सामग्री मिलेंगी, साथ ही ऑफलाइन कक्षाएं भी चलाई जाएंगी। जिसमें अधिकारी छात्रों का मार्गदर्शन करेंगे।
  • IAS और PCS परीक्षाओं के लिए,trainees IAS, IPS, IFS ( वन सेवा), PCS अधिकारियों का मार्गदर्शन करेंगे, जबकि NDA और CDS की तैयारी करने वाले छात्र और सैनिक स्कूल के प्राचार्य।
  • NEET और JEE की कक्षाएं भी चलेंगी। इनके अलावा विशेषज्ञों को गेस्ट फैकल्टी  भी दिया जाएगा।
  • यहाँ विभिन्न प्रतियोगी परीक्षाओं से संबंधित विशेष सामग्री और उपचारात्मक सामग्री उपलब्ध होगी, जिसके लिए प्रतिष्ठित संस्थानों की सामग्री एकत्र की जा रही है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत प्रदान की जाने वाली कोचिंग सेवाएँ

  • संघ लोक सेवा आयोग
  • यूपी लोक सेवा आयोग
  • अधीनस्थ सेवा चयन आयोग
  • बैंकिंग
  • एसएससी
  • बीएड
  • टीईटी
  • जे ई ई
  • नीट
  • एनडीए
  • सीडीएस
  • अर्धसैनिक
  • केंद्रीय पुलिस बल
  • अन्य भर्ती बोर्ड संस्थाओं द्वारा आयोजित परीक्षाएं

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के लिए पात्रता मानदंड

  1. आवेदक को उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना अनिवार्य है।
  2. आर्थिक रूप से पिछड़े छात्रों और बेरोजगार युवाओं को बड़े शहरों में महंगी कोचिंग का खर्च वहन नहीं करने वालों के लिए अभ्युदय योजना के तहत लाभान्वित किया जाता है।
  3. इस योजना के तहत पात्र लाभार्थी को निशुल्क टैबलेट भी दिया जाता है।

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आधार कार्ड ( Aadhaar card)
  • राशन कार्ड ( Ration card)
  • जन्म प्रमाण पत्र ( Birth certificate)
  • पासपोर्ट साइज फोटो ( Passport size photo)
  • मोबाइल नंबर ( Mobile number)

अवश्य पढ़े,

मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना में आवेदन कैसे करे?

Mukhyamantri Abhyudaya Yojana Awedan
Mukhyamantri Abhyudaya Yojana Registration
  • यहाँ से अपने परीक्षा का विकल्प को चयन करे।
  • इसके पश्चात आपके सामने इनरोलमेंट फॉर्म open होगा।
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, फोन नंबर, ईमेल आई डी, डिवीजन, क्वालिफिकेशन, एड्रेस आदि दर्ज करे।
  • इसके पश्चात सबमिट के बटन पर क्लिक करे।
  • आपके सामने एक नया पेज खुलेगा जिसमें संबंधित जानकारी दर्ज करके अपने अकाउंट को वेरीफाई करना होगा।
  • इस बाद कंफर्म के बटन पर क्लिक करे।
  • इस प्रकार मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना के अंतर्गत आवेदन सफलतापूर्वक कर पाएंगे।

सक्षम कक्षाओं में चयन के लिए आवेदन कैसे करें

  • सबसे पहले मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • होम पेज से सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा के लिए यहां क्लिक करें के लिंक पर क्लिक करे।
  • इसके बाद आपके सामने एक नया पेज खुलेगा, जिसमें अपना यूजर आईडी, पासवर्ड तथा कैप्चा कोड दर्ज करे।
  • ऐसा करते ही आपके सामने आवेदन फॉर्म खुलेगा।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, मोबाइल नंबर, एड्रेस आदि दर्ज करे।
  • उसके बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करे।
  • इस प्रकार सक्षम कक्षाओं के लिए चयन हेतु ऑनलाइन परीक्षा के लिए आवेदन कर पाएंगे।

फ्री लर्निंग मटेरियल प्राप्त करने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले Mukhyamantri Abhyudaya Yojana की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • इसके पश्चात अपने एग्जाम, सब्जेक्ट तथा पेपर का चयन करे।
  • अब सर्च के विकल्प पर क्लिक करे।
  • फ्री लर्निंग मटेरियल आपकी स्क्रीन पर खुलेगा।
  • अपने आवश्यकता अनुसार इसे डाउनलोड कर सकते है।

परीक्षाओं का सिलेबस डाउनलोड करने की प्रक्रिया

अभ्युदय योजना लाइव सेशन देखने की प्रक्रिया

  • सबसे पहले मुख्यमंत्री अभ्युदय योजना की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ।
  • होम पेज से लॉगिन टू वॉच अभ्युदय योजना सेशन लाइव के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • आपके सामने एक डायलॉग बॉक्स खुलेगा, यहाँ अपना यूजरनेम या फिर ईमेल आईडी दर्ज करे।
  • और लॉगिन के बटन पर क्लिक करे।
  • इसके बाद आपको वॉच लाइव सेशन के ऑप्शन पर क्लिक करे।
  • इस प्रकार आप लाइव सेशन देख पाएंगे।

सम्बंधित पोस्ट,

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजनायूपी भाग्यलक्ष्मी योजना
यूपी किसान कल्याण मिशनयूपी फ्री लैपटॉप योजना

Leave a Comment