मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान 2023: ऑनलाइन आवेदन

राजस्थान अल्प और गैर बारहमासी सतही जल संसाधनों और भूजल की अत्यंत महत्वपूर्ण स्थिति के साथ पानी की कमी वाला राज्य है। जल क्षेत्र का निराशाजनक परिदृश्य भौगोलिक, जलवायु और जनसंख्या अनिश्चितताओं के कारण और भी विकट और तीव्र हो गई है। आगे की चुनौतियों को देखते हुए राजस्थान सरकार ने 27 जनवरी 2016 को एक महत्वाकांक्षी कार्यक्रम “मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान”( मुख्यमंत्री जल आत्मनिर्भर मिशन) शुरू किया। जिसका उद्देश्य जलवायु लचीलापन और अनुकूली को बढ़ाना है।

NOTE:- महत्वाकांक्षी मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान राजस्थान में शुरू किया गया है। राजस्थान जल स्वावलंबन योजना उच्च तकनीकी अनुप्रयोगों के उपयोग के साथ जलवायु परिवर्तन अनुकूलन और जल संचयन उद्देश्यों में एक आवश्यक भूमिका निभाएगी।

अवश्य पढ़े, राजस्थान शुभ शक्ति योजना

Table of Contents

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान 2023

जल संरक्षण के लिए राजस्थान राज्य सरकार द्वारा मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान 27 जनवरी 2016 को शुरू किया गया। इस अभियान के तहत, राज्य सरकार के पास नेतृत्व, नैतिक जिम्मेदारी, उत्कृष्टता, नवाचार, साझेदारी और शुद्धता के मूल्यों से अवगत एक समग्र दृष्टिकोण का उपयोग करके ग्रामीण क्षेत्रों में जल संचयन और जल संरक्षण संबंधित गतिविधियों के प्रभावी कार्यान्वयन को सुनिश्चित करने की दृष्टि है।

कार्यक्रम को इस तरह से डिजाइन किया गया है कि योजना बनाने से लेकर क्रियान्वयन तक हर चीज़ का पालन ग्रामीण समुदाय स्तर तक भागीदारी के दृष्टिकोण से किया जाएगा। इस कार्यक्रम में प्रथम वर्ष में प्राथमिकता के आधार पर 3000 गांवों का चयन किया गया और अगले तीन वर्षों में लगभग 6000 गांवों को हर साल अभियान में शामिल किया गया।

अवश्य पढ़े, राजस्थान मुफ्त ट्रैक्टर एवं कृषि यंत्र योजना

Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan Highlights

योजना का नाममुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना
राज्यराजस्थान
आरंभ कीराजस्थान सरकार ने
शुरू की गईमुख्य मंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे
लाभार्थीराजस्थान के नागरिक
उद्देश्यजल की उपलब्धता सुनिश्चित करना
वर्ष2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइटhttp://mjsa.water.rajasthan.gov.in/

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना का लाभ

मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना राजस्थान सरकार की प्रमुख जल संरक्षण परियोजना है जिसका उद्देश्य वर्षा जल का संचयन करना और गांवों को पानी में आत्मनिर्भर बनाना और “उत्कृष्टता के द्वीप”बनाना है।

यह अपने उद्देश्य की योजना और निष्पादन में सामुदायिक भागीदारी दृष्टिकोण अपनाता है जैसे:-

  • भूजल स्तर में वृद्धि ( Increase in groundwater level)
  • सिंचित क्षेत्र, कृषि योग्य क्षेत्र और फसल उत्पादन में वृद्धि ( Increase in irrigated area, cultivable area and crop production)
  • फसल पैटर्न आदि में परिवर्तन ( Change in the cropping pattern etc.)

IMPORTANT NOTES:-

  • इस अभियान में 12,000 से अधिक गांवों में लगभग 4,00,000 जल संचयन संरचनाओं का निर्माण किया है।
  • जिससे राजस्थान को नीती आयोग के नवीनतम जल्द प्रावधान सूचकांक में बेहतर रैंकिंग मिली है।
  • जल स्वावलंबन अभियान ने भूजल स्तर से औसतन 4.66 फ़ीट की वृद्धि की ओर 63% सूखे हाथ पंपों और 20% नलकूपों को फिर से सक्रिय किया।

अवश्य पढ़े, राजस्थान मुख्यमंत्री चिरंजीवी स्वास्थ्य बीमा योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना की विशेषताएं

  • जल स्वावलंबन योजना के तहत गांव को पानी में आ तीव्र बनाना और आइलैंड ऑफ एक्सीलेंस बनाना है।
  • Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan चार वर्षीय कार्यक्रम है, प्रत्येक चरण एक वर्ष का है।
  • यह कार्यक्रम राजस्थान के 33 जिलों के 295 प्रखंडों में शुरू किया गया है।इस अभियान में लोगों की भागीदारी भी आमंत्रित है।
  • लाइन विभागों, गैर सरकारी संगठनों, कॉर्पोरेट धारणा, धार्मिक ट्रस्ट, अनिवासी ग्रामीणों, सामाजिक समूहों आदि जैसे कई स्रोतों से वित्तीय संसाधन जुटाना।
  • इस कार्यक्रम में प्रौद्योगिकी का व्यापक उपयोग।
  • कम लागत वाली जल संचयन संरचना का निर्माण।

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान का उद्देश्य

राजस्थान राज्य सरकार द्वारा शुरू की गयी जल स्वावलंबन अभियान, ग्रामीण राजस्थान की जलवायु लचीलापन और अनुकूलन क्षमता को बढ़ाने और बाद में बुनियादी न्यूनतम पानी की जरूरतों को पूरा करने में मदद करती है। इस योजना का मुख्य उद्देश्य कुछ इस प्रकार है:

  1. आत्मनिर्भर गावों का उदय। ( Emergence of self water reliant villages)
  2. भूजल स्तर में वृद्धि,वाटरशेड की मुख्यधारा में सतही प्रवाह की उपलब्धता और पीने के पानी की उपलब्धता। ( Increase in groundwater level, availability of surface flow in the main stream of watershed and availability of drinking water)
  3. सिंचित क्षेत्र, कृषि योग्य क्षेत्र और फसल उत्पादन में वृद्धि ( Increase in irrigated area, cultivated area and crop production)
  4. फसल पैटर्न में बदलाव ( Change in the cropping pattern)
  5. मुख्य धाराओं के बेहतर जल में निलंबित अवसादों में कमी तथा भूजल के अवक्षय में कमी। ( Reduction in suspended sediments in flowing water of main streams and reduction in depletion of ground water)

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान दायरा

राजस्थान के गांवों को सूखे से बचाने के लिए वाटरशेड कर राज्य के विभागों, गैर सरकारी संगठनों, कॉर्पोरेट सामाजिक दायित्व, जन भागीदारी, अनिवासी ग्रामीण क्लब आदि के तहत उपलब्ध धनराशि से जल संचयन एवं संरक्षण कार्य क्रियान्वित किया जाएगा।

  • स्थायी समाधान के लिए बुद्धिमान जल बजट।
  •  प्रथम वर्ष में प्राथमिकता के आधार पर लाख व 3000 गांवों की पहचान की जाएगी और आने वाले तीन वर्षों में लगभग 6000 गांवों को हर साल शामिल कर मिशन से राज्य के 21,000 गांवों को लाभान्वित किया जाएगा।
  • गांवों को लाभान्वित किया जाएगा और उन्हें आत्मनिर्भर बनाकर स्थायी समाधान प्राप्त किया जाएगा।
  • पानी की शर्तें शेष गांवों में चरणबद्ध तरीके से प्राथमिकता सूची के रूप में कार्य को क्रियान्वित किया जाएगा।

इसे भी पढ़े, राजस्थान पालनहार योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के लिए व्यवस्था

  1. राज्य ग्रामीण जल संरक्षण मिशन
  2. राज्य स्तरीय निर्देशन समिति
  3. राज्य स्तरीय कार्य समूह
  4. जिला स्तरीय निगरानी समिति
  5. प्रखंड स्तरीय समिति
  6. कार्य योजना तैयार करेगी ग्राम स्तरीय समिति

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के लिए जिला कार्य योजना की स्वीकृति

ग्राम सभा द्वारा स्वीकृत कार्यों की प्राथमिकता पर जिला स्तरीय समिति से अनुमोदन प्राप्त कर जिला कलेक्टर द्वारा जिला मिशन योजना जारी की जाएगी। तथा विभिन्न विभागों के समन्वय एवं राज्य स्तर के प्रथक बजट उपलब्ध करवाए जाएंगे।

राजस्थान जल संस्थान विभाग द्वारा गांवों की प्राथमिकता सूची तैयार करना

  • गांव जहाँ अन्य वाटरशेड परियोजना चार जल संकल्पना आदि स्वीकृत है।
  • जिन गांवों में पीने का पानी योग्य नहीं है या फ्लोराइड की मात्रा अधिक है।
  • जिन गांवों में गत पांच वर्षों के दौरान टैंकों से पेयजल आपूर्ति की गई है।
  • वे गांव जिन्हें पिछले पांच वर्षों के दौरान अकाल घोषित किया।
  • गांव जहाँ 70% कृषि भूमि बर्षा पर निर्भर है।
  • मुख्यमंत्री, सांसद, विधायक और अन्य योजनाओं के तहत आदर्श गांव।
  • वन विभाग ने गांव क्लस्टर के अंतर्गत आते हैं।
  • इस योजना में भाग लेने एवं योगदान करने के इच्छुक गांव।

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के लिए प्रशासनिक स्वीकृति:-

Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan के तहत प्राप्त राशि की प्रशासनिक एवं वित्तीय स्वीकृति जिला कलेक्टर या उनके द्वारा अधिकृत अधिकारी द्वारा जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय समिति के अनुमोदन के बाद जारी की जाएगी। विभागीय कार्यों की स्वीकृति मिशन के दिशा निर्देशों के अनुसार सक्षम प्राधिकारी द्वारा जारी की जाएगी। विस्तृत निर्देशन अलग से जारी किया जाएगा।

तकनीकी स्वीकृति संबंधित विभाग के सक्षम तकनीकी अधिकारी द्वारा जारी की जाएगी। मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत जिला कलेक्टर द्वारा अधिकृत तकनीकी अधिकारियों द्वारा तकनीकी स्वीकृति का प्रत्येक अभिलेख एवं पंजीका सनधारित किया जाएगा।

अवश्य पढ़े, राजस्थान नवजात सुरक्षा योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान का चरण

अत्यधिक वैज्ञानिक तरीके से व्यापक और जोरदार वाटरशेड विकास गतिविधियों के साथ 128 Mcum पानी को समायोजित करने के लिए अतिरिक्त भंडारण मार्गो का निर्माण अतिरिक्त 11170 Mcft मानसून पानी को रोकने में मदद करता है जिसके परिणामस्वरूप:-

  • गर्मी के दिनों में पीने योग्य पानी की बेहतर उपलब्धता।
  • भूजल में सुधार
  • बंद पड़े हैंडपंप,नलकुपों और खुले कुओं का पुनरुद्धार।
  • कम मौसम में सिंचाई के लिए पानी की उपलब्धता में वृद्धि के परिणामस्वरूप कम मौसम की फसल और बाग के तहत क्षेत्र में वृद्धि हुई है।
  • वनस्पतियां और जीवों का विकास करना और उन्हें बनाए रखना।
  • सूखे के दुरुपयोग को कम करना और जनता की दुर्दशा को कम करना।
  • 28 लाख पौधों के रोपण और मिट्टी की नमी में वृद्धि हरित आवरण में वृद्धि में मदद की।

प्रथम चरण:

  • मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान के तहत, चयनित गांवों में, पारंपरिक जल संरक्षण प्रणालियों जैसे तालाबों, बावडियो , टांके आदि का निर्माण किया गया है और नई तकनीकों के साथ निक, टाँके, लगाम आदि का निर्माण किया गया है।
  • राज्य से 295 पंचायत समितियों के 3 हजार 529 गांवों का चयन किया गया 95,192 कार्य पूर्ण किए जा चुके हैं।

द्वितीय चरण:

  • 9 दिसम्बर, 2016 को मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान का आरम्भ कर 4,213 गांवों में लगभग 1,30,393 जल संरक्षण कार्य पूर्ण किए गए हैं।
  • इसके अलावा, अभियान में 66 शहरों को भी शामिल किया गया हैं।

तृतीय चरण:

  • तृतीय चरण में 4,314 गांवों में 1,56,152 जल संरक्षण कार्य पूर्ण किए गए हैं।
  • अभी तक तीनों चरणों में 12,056 गावों में 3,81,737 कार्य पूर्ण किए गए हैं एवं 148 लाख पौधे लगाए जा चुके हैं।

चतुर्थ चरण:

  • इस योजना का चतुर्थ चरण 3 अक्टूबर, 2018 से शुरू कर 3,963 गांवों में 1.80 लाख कार्य चिन्हित किए गए हैं।

इसे भी पढ़े, राजस्थान स्कॉलरशिप योजना

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान में आवेदन कैसे करे?

  • सबसे पहले मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान की आधिकारिक वेबसाइट पर जाएँ
  • ऑफिसियल वेबसाइट का होम पेज इस प्रकार खुलेगा
Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan Registration
Mukhyamantri Jal Swavlamban Abhiyan Sign up
  • यहाँ रजिस्ट्रेशन करने के लिए तीन विकल्प उपलब्ध है
    • Citizen कार्नर
    • udhyog रजिस्ट्रेशन
    • Govt. Employee रजिस्ट्रेशन
  • अपनी आवश्यक्ता अनुसार विकल्प का चयन करे। मान लीजिए Citizen से रजिस्ट्रेशन करना है
  • Citizen पर क्लिक करने के बाद निचे 3 प्रकार से रजिस्टर करने का प्रावधान मौजूद है. जन आधार / भामाशाह / फेसबुक / गूगल आदि।
  • जन आधार में आधार नंबर द्वारा रजिस्ट्रेशन करे।
  • इसके बाद राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना के विकल्प पर क्लिक करे।
  • अब स्क्रीन पर एक नया पेज खुलेगा।
  • इस पेज पर पूछी गई जानकारी दर्ज करे।
  • इसके साथ अपने सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों को अपलोड करे।
  • इसके पश्चात सबमिट के विकल्प पर क्लिक करे।
  • इस प्रकार आप राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन योजना के अंतर्गत आवेदन कर पाएँगे।

संपर्क विवरण

राजस्थान मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान से सम्बंधित सभी आवश्यक जानकारी एवं सूचना यहाँ उपलब्ध कराया गया है। यदि अभी भी इस अभियान से सम्बंधित कोई समस्या शेष हो, तो निचे दिए गए कांटेक्ट एड्रेस पर संपर्क कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते है।

  • IT Building, Yojana Bhawan Premises, Tilak Marg, C-Scheme, Jaipur, Rajasthan India – 302005,
  • Landline :  0141-2921351
  • Email: umeshcj.doit@rajasthan.gov.in

Leave a Comment