यूपी किसान कल्याण मिशन में रजिस्ट्रेशन ऐसे करे

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बुधवार को किसानों के कल्याण और विकास के लिए समर्पित एक पहल ‘किसान कल्याण मिशन’ की शुरुआत की और किसानों की आय दुगनी करने के अपनी सरकार के संकल्प को दोहराया।

देश के ‘जय जवान, जय किसान’ के नारे का आवाहन करते हुए, यूपी के मुख्यमंत्री ने कहा कि इसके बावजूद पिछली सरकारों, मुख्य रूप से कांग्रेस के राजनीति से प्रेरित दृष्टिकोण के कारण किसान हताहत रहे हैं। यूपी किसान कल्याण मिशन के तहत किसानों की भलाई के लिए विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए गए हैं।

NOTE:- किसानों के लिए बैठकें आयोजित की जाएंगी, जिसमें वैज्ञानिक व कृषि विभाग से जुड़े कार्यकर्ता सरकार की योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही वैज्ञानिक खेती को भी समझाएंगे।

Table of Contents

यूपी किसान कल्याण मिशन रजिस्ट्रेशन

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों की आय को दुगना करने के लिए 6 जनवरी 2021 को किसान कल्याण मिशन नाम से एक विशेष कार्यक्रम शुरू किया। सभी 75 जिलों के प्रत्येक विकास खंड मैं किसानों के कल्याण के लिए तीन सप्ताह तक अभियान चलाया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लखनऊ के सरोजनी नगर विकास खंड से यूपी किसान कल्याण मिशन की शुरुआत की।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए जाने वाले मिशन के तहत राज्य सरकार के कई विभाग जैसे बागवानी, मंडी परिषद, पशुपालन, गन्ना खाद और पंचायतीराज एक साथ काम करेंगे।

राज्य के किसान विभिन्न कृषि प्रदर्शनियों में भाग ले सकते हैं और योजना का लाभ उठा सकते हैं। राज्य के 303 विभिन्न ब्लाकों में विभिन्न कृषि कार्यक्रम आयोजित किये गए और अगले सप्ताह 303 विभिन्न प्रखंडों में कृषि कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।

अवश्य पढ़े, उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

किसान कल्याण अभियान

किसान कल्याण अभियान 2018 में कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय द्वारा शुरू किया गया था। इसका उद्देश्य किसानों को उनकी खेती की तकनीक में सुधार करने में मदद करना है। किसान कल्याण अभियान का उद्देश्य और इरादा वही है जो किसान कल्याण मिशन का है।

अर्थात, नई प्रौधोगिकता द्वारा कृषि में होने वाले लाभ से उनकी आय में वृद्धि करवाना, जिससे किसानो की आर्थिक स्थिति में सुधार लाया जा सके और खेती की नई तकनीक के माध्यम से बेहतर फसलों के उत्पादन से किसान फसलों को बेहतर दामों में बेच सकेंगे जिससे उनकी आमदनी में भी वृद्धि हो पाएगी।

किसान कल्याण अभियान और किसान कल्याण मिशन में क्या अंतर है?

किसान कल्याण अभियान केंद्र सरकार द्वारा क्रियान्वित किया जाता है। दूसरी ओर, किसान कल्याण मिशन को यूपी राज्य सरकार द्वारा लागू किया गया है। किसान कल्याण अभियान ने देश के 112 आकांक्षी जिलों को चुना है।

UP Kisan Kalyan Mission Highlights

योजना का नामयूपी किसान कल्याण मिशन
आरम्भ की गईमुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी द्वारा
विभागउत्तर प्रदेश कृषि विभाग
साल2023
लाभार्थीराज्य के किसान
लाभकिसानों की आय में वृद्धि
उद्देश्यकिसानों की आमदनी में वृद्धि करना
आवेदन प्रक्रियाजल्द ही आरम्भ होंगी
श्रेणीउत्तर प्रदेश सरकारी योजना
आधिकारिक वेबसाइटupagriculture.com

अवश्य पढ़े, 

किसान कल्याण मिशन के तहत क्या होगा?

  • किसान कल्याण मिशन के तहत विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। कृषि और सहयोगी क्षेत्रों की प्रदर्शनी आयोजित की जाएगी जिसमें आजीविका मिशन और MSME क्षेत्र की इकाइयों के उत्पाद शामिल होंगे।
  • कार्यक्रम के तहत किसान गोष्ठी का आयोजन किया जाएगा जिसमें वैज्ञानिक, प्रगतिशील किसान और कृषि विभाग से जुड़े कार्यकर्ता वैज्ञानिक खेती की व्याख्या करेंगे। साथ ही सरकार की योजनाओं की जानकारी भी देंगे।
  • कार्यक्रम के तहत आयोजित कार्यक्रम के दौरान कृषि विभाग की विभिन्न योजनाओं से भी किसान लाभान्वित होंगे।

कार्यक्रम के तहत 100 किसानों को सम्मानित करेगी सरकार

कार्यक्रम के तहत यूपी सरकार भी राज्य के प्रत्येक जिले में 100 प्रगतिशील किसानों को सम्मानित करने की संभावना है। राज्य के मुख्य सचिव के अनुसार, प्रत्येक जिले के 100 प्रगतिशील किसानों को रोल मॉडल के रूप में चुना जाएगा और उन्हें बधाई दी जाएगी। सरकार इनका डेटाबेस भी तैयार करेगी।

किसान को नवीनतम कृषि दिशा निर्देशों के संदर्भ में भी प्रशिक्षित किया जाएगा। यह किसानों को केंद्र की विभिन्न योजनाओं जैसे पीएम किसान सम्मान निधि, किसान क्रेडिट कार्ड और पीएम फसल बीमा योजना से लाभ प्राप्त करने में मदद करेगा।

किसान कल्याण मिशन की प्रमुख विशेषताएं

  1. किसान कल्याण मिशन का उद्देश्य उत्तर प्रदेश राज्य के सभी विधानसभा क्षेत्रों में किसानों की आय को दुगना करना है। यह उन अभियान के माध्यम से प्राप्त किया जाना है जो संतुलित तरीके से उर्बरको के उपयोग से होने वाली कृषि को कम करने के बारे में किसानों के बीच जागरूकता पैदा करते हैं।
  2. किसान कल्याण मिशन किसानों को बाजार की मांग के अनुसार समय पर फसल उगाने के लिए भी प्रोत्साहित करेगा।
  3. किसान कल्याण मिशन का उद्देश्य कृषि विविधिकरण बनाना है।
  4. मिशन के तहत MSME और आजीविका मिशन के उत्पादों सहित कृषि और सहयोगी क्षेत्र की प्रदर्शनी जैसे कई कार्यक्रम शुरू किए जाने हैं।
  5. मिशन मंडी परिषद, पशुपालन, बागवानी, गन्ना खाद्य और पंचायतीराज जैसे कई राज्य सरकार के विभागों के लिए एकीकृत मंच के रूप में कार्य करेगा।
  6. रवि फसल को बचाने के बारे में समसामयिक जानकारी प्रदान करेगा। यह अगली फसलों को नुकसान से बचाने के लिए समाधान भी प्रदान करेगा।
  7. किसान क्रेडिट कार्ड भी वितरित करेगा।

यूपी किसान कल्याण मिशन के लाभ

  • इस योजना के तहत उत्तर प्रदेश के किसानो को लाभ प्रदान किया जायेगा।
  • यूपी किसान कल्याण मिशन के अंतर्गत राज्य के किसानो के लिए 824 विकास खंडों में कृषि कार्यक्रम आयोजित किये जायेगे।
  • UP Kisan Kalyan Mission के तहत कृषि आधारित गतिविधियां जैसे पशुपालन, बागवानी, खेती आदि शामिल हैं।
  • किसानों को योजनाओं की जानकारी देने के साथ ही उन्हें लाभान्वित भी किया जाएगा।
  • प्रथम स्तर के प्रोग्राम में किसानों को Farmer production organization और Women’s Self Help Group में शामिल होने के बारे में जानकारी प्रदान की जाएगी।
  • योजना के माध्यम से उत्तर प्रदेश के किसानो की आय के स्त्रोत बढ़ाने हेतु कई तरह के आयोजन आयोजित किये जायगे।

अवश्य पढ़े, उत्तर प्रदेश बेरोजगारी भत्ता

यूपी किसान कल्याण मिशन में किसान विज्ञान केंद्रों की क्या भूमिका है

किसान कल्याण मिशन कृषि विज्ञान केंद्रों के विशेषज्ञों को तैनात करता है। ये विशेष खेती की उन्नत तकनीकों और किसानों की आय बढ़ाने के तरीके से अपने ज्ञान को साझा करता है। पी कृषि विज्ञान केंद्र जो कृषि केंद्र है व्यावहारिक और स्थानीय सेटिंग में कृषि अनुसंधान पर ध्यान केंद्रित करते हैं। ये केंद्र भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद से जुड़े हुए हैं।

यूपी किसान कल्याण द्वारा शुरू की गई गतिविधियाँ

  • यह पैर और मुँह की बीमारी के लिए गोजातीय टीकाकरण के लिए 100% कवरेज प्रदान करेगा।
  • यह भेड़  और बकरी के प्लेग के उन्मूलन को कवर करेगा।
  • तिलहन एवं दलहन की मिनी किट का वितरण।
  • कृत्रिम गर्भाधान
  • सूक्ष्म सिंचाई पर प्रदर्शन कार्यक्रम

UP Kisan Kalyan Mission के तहत महत्वपूर्ण जानकारी

  1. कृषि और सहयोगी क्षेत्रों की प्रदर्शनियों का आयोजन किया जाएगा जिसमें MSME क्षेत्र की इकाइयों और आजीविका मिशन के उत्पाद शामिल होंगे।
  2. किसान सभा भी आयोजित की जाएगी जिसमें प्रगतिशील किसान, वैज्ञानिक और कृषि विभाग से जुड़े कार्यकर्ता वैज्ञानिक खेती की व्याख्या करेंगे और सरकार की योजनाओं के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे।
  3. इन आयोजनों के दौरान  कृषि विभाग के विभिन्न योजनाओं के तहत किसानों को लाभ दिया जाएगा।

यूपी किसान कल्याण मिशन के तहत किसानों की आय कैसे होगी दुगनी

  • खाद्य उत्पादक संगठन ( FPO) कार्यक्रम प्रखंड स्तर पर।
  • FPO  किसानों को उपलब्ध कराएगा मशीनरी और बीज।
  • प्रखंड स्तर पर भी किसान मेलों एवं प्रदर्शनियों का आयोजन किया जाएगा, प्रोमोशनल किसानों को रोल मॉडल के रूप में बढ़ावा दिया जाएगा।
  • किसानों को आसानी से क्रेडिट कार्ड उपलब्ध कराए जाएंगे।
  • न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपज की बिक्री के लिए जागरूकता।
  • जैविक और प्राकृतिक कृषि पद्धतियों के बारे में जागरूकता।
  • एकीकृत कृषि प्रणाली प्रचार।
  • मुख्यमंत्री कृषक उपहार योजना के तहत ट्रैक्टर एवं अन्य उपकरणों का वितरण।
  • गन्ने की खेती को बढ़ावा, नई प्रजातियां, अंतर फसल प्रणाली और ड्रिप सिंचाई प्रणाली।
  • खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के लिए अनुदान।
  • दुधारू पशुओं की नस्ल सुधार के लिए राष्ट्रीय कृत्रिम गर्भाधान कार्यक्रम।
  • पशुओं का टीकाकरण, कान पर टैग लगाना।
  • मिशन शक्ति के तहत महिला किसानों की भागीदारी।

अवश्य पढ़े, प्रधानमंत्री रोजगार योजना

सरकार ने अब तक किसानों के लिए क्या किया

  • 86 लाख छोटे और सीमांत किसानों की 36,000 करोड़ की कर्ज माफी।
  • पीएम किसान सम्मान निधि योजना में किसानों को दिए गए 27,101 करोड़ रुपए।
  • गन्ना किसानों को 1.15 लाख करोड़ रुपये का भुगतान।
  • खाद्यान्न के एमएसपी पर किसानों से 60,000 करोड़।

UP Kisan Kalyan Mission के अंतर्गत संचालित कार्य

खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों के लिए अनुदान किया जाएगा
एफपीओ किसानों को मशीनरी और बीज उपलब्ध किए जाएँगे
दुधारू पशुओं के नस्ल सुधार के लिए राष्ट्रीय कृतिम गर्भाधान कार्यक्रम का आयोजन
ब्लॉक स्तर पर किसान मेला और प्रदर्शनी (Exhibition) भी लगाई जाएगी
जैविक व प्राकृतिक कृषि पद्धति (Organic and Natural Farming method) के विषय में जागरूकता
मनरेगा से जुड़े कृषि कार्यों का प्रचार-प्रसार
गन्ने की खेती, नई प्रजाति, नई तकनीक, अंतर फसलीय प्रणाली व बूँद से सिंचाई (Drip Irrigation) प्रणाली का प्रचार प्रसार किया जाएगा
कृषि व्यवसाय आधारित स्वयं सहायता समूह के उत्पादों की प्रदर्शनी
पशुओं का टीकाकरण, ईयर टैगिंग
मिशन शक्ति के तहत महिला कृषकों की सहभागिता
पराली प्रबंधन के विषय में जागरूकता
प्रगतिशील किसानों को रोल मॉडल के तौर पर प्रमोट किया जाएगा
न्यूनतम समर्थन मूल्य पर उपज बिक्री हेतु जागरूकता
किसानों को कृषि रक्षा रसायनों का वितरण समयनुसार किया जाएगा
एकीकृत कृषि प्रणाली (Integrated Farming System) का प्रचार-प्रसार
Food producer Organization (FPO) का ब्लॉक स्तर पर कार्यक्रम
किसानों को आसानी से क्रेडिट कार्ड उलब्ध करवाए जाएँगे
मुख्यमंत्री कृषक उपहार योजना में ट्रैक्टर सहित अन्य उपकरणों का वितरण किया जाएगा

अवश्य पढ़े, यूपी मिशन रोजगार

उत्तर प्रदेश किसान कल्याण मिशन के लिए पात्रता पात्रता

यूपी किसान कल्याण मिशन में आवेदन के लिए निम्न प्रकार की पात्रता को पूरा करना आवश्यक है:

  • आवेदक उत्तर प्रदेश के स्थाई निवासी होने चाहिए।
  • आवेदनकर्ता के पास सभी महत्त्वपूर्ण दस्तावेज होने आवश्यक चाहिए।

किसान कल्याण मिशन के लिए आवश्यक दस्तावेज

  • आवेदक यूपी का स्थायी निवासी होना चाहिए
  •  इस योजना के तहत केवल उत्तर प्रदेश के किसानों को ही पात्र माना जाएगा
  •  निवास प्रमाण पत्र
  •  पहचान पत्र
  •  मोबाइल नंबर
  •  पासपोर्ट साइज फोटो

यूपी किसान कल्याण मिशन में आवेदन कैसे करे

UP Kisan Kalyan Mission के अंतर्गत लाभ प्राप्त करने के लिए आवेदन करना प्रत्येक किसान के लिए आवश्यक है. अतः आवेदन करने के लिए निम्न steps को फॉलो करे:

  • सबसे पहले कृषि विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएँ।
  • ऑफिसियल वेबसाइट पर जाने के बाद आपके सामने होम पेज इस प्रकार खुलेगा।
UP Krishi Kalyan Mission Yojana
  • होम पेज से पंजीकरण करें के विकल्प पर क्लिक करे।
  • इसके बाद ऑनलाइन पंजीकरण करें के विकल्प पर क्लिक करे।
  • अगले स्टेप में आवेदन फॉर्म open होगा।
  • आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी जैसे आपका नाम, पता आदि दर्ज करे।
  • पुनः फॉर्म में माँगे गए सभी दस्तावेजों को फॉर्म के साथ अपलोड करे।
  • सभी आवश्यक प्रक्रिया पूरा करने के बाद सबमिट बटन पर क्लिक करे।
  • इस तरह आप यूपी किसान कल्याण मिशन में सफलतापूर्वक आवेदन कर पाएँगे।

निष्कर्ष

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के किसानों की आय को दोगुना करने के लिए 6 जनवरी 2021 कु किसान कल्याण मिशन नाम से एक विशेष कार्यक्रम शुरू किया। किसानों को जागरूक करने का यह अभियान 8 जनवरी से 21 जनवरी तक उत्तर प्रदेश के 825 प्रखंडों में चलाया जाएगा।

इस मिशन के तहत किसानों को केंद्र सरकार द्वारा पारित नए कृषि कानूनों के लाभों के बारे में भी बताया जाएगा। सीएम योगी ने कहा कि यूपी में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि से 2 करोड़ 35 लाख किसान लाभान्वित हो रहे हैं।पिछले 3.5 साल में गन्ना मूल्य 1,15,000 करोड़ रुपये का भुगतान किया है। यह राशि इतनी बड़ी है, कई राज्यों के पास वार्षिक बजट नहीं है।

इसे भी पढ़े,

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजनाप्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना
प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाप्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजन

Leave a Comment