राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना: फॉर्म एवं ऑनलाइन आवेदन

भारत में, यह एक बहुत ही सामान्य बात है कि एक परिवार का मुखिया ही एकमात्र व्यक्ति होता है जो परिवार के लिए कमाता है और सभी सदस्यों को खिलाता है। परिवार के मुखिया की मृत्यु हो जाने पर परिवार के सदस्यों को उसकी मृत्यु के बाद जीविका चलाने के लिए काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है।

इस योजना के के अंतर्गत सरकार द्वारा परिवार को ₹30,000 की आर्थिक सहायता प्रदान की जाती है, जिसका संचालन समाज कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश द्वारा किया जाता है। यहाँ Rashtriya Parivarik Labh Yojana के सन्दर्भ में सभी जानकारी जैसे ऑनलाइन आवेदन, पात्रता, आवेदन की स्थिति आदि को विस्तार से अध्ययन करे।

Table of Contents

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना 2023

परिवार के कल्याण के लिए भारत सरकार ने पारिवारिक लाभ योजना शुरू की है। इस योजना के तहत परिवार के मुखिया की मृत्यु के बाद परिवार को सहायता मिलेंगे। परिवार के मुखिया को, परिवार के मुख्य कमाने वाले के रूप में गिना जाता है, और उसकी मृत्यु के बाद परिवार को आर्थिक सहायता की आवश्यकता होती है।इसलिए सरकार पारिवारिक लाभ योजना योजना के तहत उन सभी  परिवारों की मदद की है।

पारिवारिक लाभ योजना का लाभ केवल वही परिवार प्राप्त कर सकते हैं जिनके मुखिया की आयु 18 से 70 वर्ष के बीच हो। शहरी क्षेत्र के आवेदकों के लिए उनके परिवार की सकल वार्षिक आय 56,450 रुपये होनी चाहिए। जबकि ग्रामीण क्षेत्रों के आवेदकों के लिए कुल वार्षिक पारिवारिक आय ₹46,080 से अधिक नहीं होनी चाहिए। इस योजना के लिए केवल गरीबी रेखा से नीचे के परिवार ही आवेदन कर सकते हैं।

अवश्य पढ़े, उत्तर प्रदेश कन्या सुमंगला योजना

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के बारे में महत्वपूर्ण जानकारियां

Rashtriya Parivarik Labh Yojana अब पूरे राज्य मैं शुरू हो गई है। राज्य सरकार ने योजना में गड़बड़ी की शिकायतों के बाद यह फैसला लिया है। परिवार के कमाने वाले मुखिया की मृत्यु के बाद इस योजना के तहत ₹30,000 की एकमुश्त सहायता दी जाएगी। लेकिन मुखिया की आयु 60 वर्ष से कम हो।

  • जिस परिवार में एक ही व्यक्ति पूरे परिवार की देखभाल करता है वैसे परिवार के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने राष्ट्रीय परिवार लाभ योजना चलाई है।
  • जिसके तहत परिवार के मुखिया की मृत्यु होने पर,  राज्य सरकार उसके परिवार को ₹30,000  वित्तीय सहायता के रूप में देगी।
  • इस योजना का विस्तृत विवरण समाज कल्याण विभाग, उत्तर प्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर दिया गया है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य में Rashtriya Parivarik Labh Yojana या उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री परिवार लाभ योजना शुरू की है। या बढ़ती दुर्घटनाओं और आपराधिक  स्पीक घटनाओं को देखते हुए शुरू किया था जिसमें लोगों की समय से पहले मौत हो जाती है।

Rashtriya Parivarik Labh Yojana Highlights

योजना का नामराष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना
शुरू की गयीउत्तर प्रदेश सरकार द्वारा
लाभार्थीराज्य के गरीब परिवार
विभागसमाज कल्याण विभाग यूपी
योजना की शुरुआतअक्टूबर 2020
सहायता राशी30,000 रुपये
उद्देश्यआर्थिक सहयोग
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
ऑफलाइन
आवेदन की स्थितिActive
ऑफिसियल वेबसाइटhttp://nfbs.upsdc.gov.in/

अवश्य पढ़े, सुकन्या समृद्धि योजना

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना की विशेषताएं

पारिवारिक लाभ योजना के तहत परिवार के अगले मुख्य सदस्य को मुआवज़े के रूप में ₹30,000 की एक निश्चित राशि प्रदान की जाएगी। योजना की शुरुआत ₹20,000 तय राशि से की गई थी, लेकिन साल 2013 में कुछ बदलाव किए गए हैं और इस रकम में ₹10,000 और बढ़ा दिए गए।

  1. उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय परिवार योजना का लाभ परिवार को आवेदन करने के 45 दिनों के भीतर दिया जाएगा।
  2. परिवार को दी जाने वाली मुआवज़े की राशि पहले 20,000 थी, जिसे वर्ष 2013 में संशोधित किया गया था।
  3. Rashtriya Parivarik Labh Yojana के तहत सरकार आवेदक को ₹30,000 का भुगतान करेगी।
  4. इस योजना का लाभ केवल उन गरीब परिवारों को दिया जाएगा जिनके परिवार के मुखिया की किसी कारण से मृत्यु हो गई है और उनके परिवार में कोई कमाई नहीं है।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना का उद्देश्य

Rashtriya parivarik Labh Yojana का मुख्य उद्देश्य राज्य के गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे परिवारों को लाभ पहुँचाना है। यदि परिवार के कमाने वाले मुखिया की मृत्यु किसी कारण से हो जाता है, तो उनके परिवार का भरण पोषण करने हेतु UP राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना प्रदान किया जाता है।

इस योजना अंतर्गत 30,000 रूपये की वित्तीय सहायता प्रदान की जाती है, जिससे परिवार अपने आर्थिक स्थिति को सुधार सके है. यह सरकार की एक पहल है जिसके माध्यम से परिवार में आए तंगी को तत्कालीन ठीक किया जा सकता है।

यूपी पारिवारिक लाभ योजना के लाभ

इस योजना के अंतर्गत गरीबी रेखा नीचे जीवन यापन करने वाले परिवारों को निम्न प्रकार की लाभ प्राप्त होता है:

  • गरीब परिवारों को 30,000 रूपये का मुआवज़ा सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा।
  • मृत्यु सहायता योजना का लाभ केवल उन्ही गरीब परिवारों को प्रदान किया जाएगा, जिन परिवारों की मुखिया का किसी कारणवश मृत्यु हो गयी है और उनके परिवार में कोई कमाने वाला न हो।
  • पारिवारिक लाभ योजना के अंतर्गत नेशनल फैमिली बेनिफिट स्कीम प्रदान किया जाएगा।
  • Rastriya Parivarik Labh Yojana के अंतर्गत धनराशि आवेदनकर्ता के बैंक खाते में जमा की जाएगी।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के लाभार्थी दिशानिर्देश

  1. आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  2. यदि परिवार के मुखिया के अलावा किसी अन्य सदस्य की मृत्यु हो जाती है तो परिवार इस स्थिती में आवेदन करने के पात्र नहीं होगा। मुखिया की मृत्यु के बाद ही आर्थिक सहायता दी जाएगी।
  3. मरने वाले परिवार के मुखिया की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होनी चाहिए।
  4. यदि आवेदक परिवार शहरी है तो परिवार की कुल आय 56,000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  5. आवेदन की पारिवारिक आय जो ग्रामीण क्षेत्र से हैं, सालाना ₹46,080 से अधिक नहीं होनी चाहिए। अधिक होने की स्थिती में वह Rastriya Parivarik Labh Yojana के लिए आवेदन नहीं कर सकते।
  6. आवेदक को राष्ट्रीय स्तर के बैंक खाते का विवरण देना होगा।
  7. सरकारी बैंक खाता राष्ट्रीय परिवार योजना के तहत मान्य नहीं है।
  8. तहसील स्तर से जारी आय प्रमाणपत्र मान्य होगा।
  9. आवेदक द्वारा भरी गई जानकारी को सत्य माना जाएगा और यदि कोई त्रुटि पाई जाती है तो इसके लिए आवेदक स्वयं जिम्मेदार होगा।
  10. आवेदक को आवेदन पत्र भरते समय सभी महत्वपूर्ण दस्तावेजों की फोटोकॉपी अपलोड करना अनिवार्य है।
  11. मृत्यु प्रमाण पत्र केवल मान्यता प्राप्त अस्पताल, पी के नगर पंचायत या तहसील स्तर से जारी किया गया मान्य होगा।
  12. लाभार्थी का फोटो हस्ताक्षर 20 केवी से अधिक नहीं होनी चाहिए और JPEG प्रारूप में होना चाहिए।
  13. लाभार्थी का पहचान पत्र, बैंक पास बुक, मृतक का मृत्यु प्रमाण पत्र आदि पीडीईएफ् प्रारूप में पीस केवी से अधिक नहीं होनी चाहिए।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के लिए पात्रता मानदंड

  • आवेदक उत्तर प्रदेश का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  • Rastriya Parivarik Labh Yojana का लाभ केवल उन्हीं परिवारों को दिया जाएगा जिनके मुखिया की मृत्यु हो चुकी है और मुखिया की आयु 18 से 60 वर्ष के बीच होगी।
  • उत्तर प्रदेश Rashtriya Parivarik Labh Yojana के तहत शहरी क्षेत्रों में आवेदक के परिवार की वार्षिक आय 56,000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए और ग्रामीण क्षेत्रों में परिवार की वार्षिक आय ₹46,000 से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • आवेदक परिवार गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रहे होंगे तभी इस योजना का लाभ ले सकेंगे।
आय सीमा

इस योजना का लाभ उन परिवारों को दिया जाएगा जिनके परिवार के मुखिया की आय ₹1,00,000 से अधिक नहीं है। शहरी क्षेत्रों में आवेदक की वार्षिक आय ₹56,450 से अधिक नहीं होनी चाहिए और ग्रामीण क्षेत्रों में आवेदक की आय ₹46,080 से अधिक नहीं होनी चाहिए।

आयु सीमा

इस योजना का लाभ लेने के लिए आयु सीमा निर्धारित की गई है ताकि कोई भी आयोग व्यक्ति इस योजना के लिए आवेदन न कर सके और लाभ प्राप्त कर सके। इस योजना में केवल वही व्यक्ति आवेदन कर सकता है जिसकी आयु 18 वर्ष से अधिक और साथ ही 60 वर्ष से कम हो।

अवश्य पढ़े, 

आयु प्रमाणपत्र:- चूँकि इस योजना के लिए आयु सीमा निर्धारित की गई है इसलिए आवेदकों को अपने आयु प्रमाण पत्र की एक कॉपी दिखानी होगी।

आय प्रमाणपत्र:- जिस परिवार के मुखिया की मृत्यु हो गई है, वह आय मानदंड के तहत होना चाहिए, इसलिए यह साबित करने के लिए कि यह आय प्रमाण पत्र परिवार के मुखिया की आय के प्रमाण के रूप में प्रदान करना अनिवार्य है। फॉर्म के साथ आय प्रमाण पत्र या वेतन पर्ची संकलन करना आवश्यक है।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के दस्तावेज

  • आवेदक का आधार कार्ड ( Applicant’s Aadhar Card)
  • पहचान पत्र ( Identity card)
  • एड्रेस प्रूफ ( Address proof)
  • प्रमुख की मृत्यु का प्रमाणपत्र ( death certificate of chiefs death)
  • आय प्रमाणपत्र ( income certificate)
  • बैंक खाता पासबुक ( Bank account passbook)
  •  मोबाइल नंबर ( Mobile number)
  • प्रमुख की आयु प्रमाणपत्र ( Head certificate of age)
  • पासपोर्ट साइज फोटो ( Passport size photo)

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत गरीबों को राहत

यदि कोई गरीब परिवार अपने परिवार के एकमात्र कमाने वाले व्यक्ति को खो देता है जो कि घर का मुखिया होता है, ऐसे में यह योजना उनके लिए मदद लेकर आई है। उस परिवार के अगले मुखिया या उस परिवार से सभी कमाने वाले व्यक्ति को मुआवजा मिलेगा ताकि वह अपने परिवार का खर्च आसानी से उठा सकें।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना के तहत गरीब परिवारों को आर्थिक रूप से सहायता राज्य सरकार द्वारा दी जाएगी। और गरीब परिवारों को जीवन यापन करने में आसानी होगी।

अवश्य पढ़े, उत्तर प्रदेश विवाह अनुदान योजना

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना में आवेदन कैसे करे?

Rashtriya Parivarik Labh Yojana के अंतर्गत ऑनलाइन आवेदन करने के लिए निम्न स्टेप्स को फॉलो करे:

  • सबसे पहले समाज कल्याण विभाग की Official Website पर जाए।
  • ऑफिसियल वेबसाइट का होम पेज इस प्रकार ओपन होगा।
Rastriya Parivarik Labh Yojana Registration
  • होम पेज से “नया पंजीकरण” के विकल्प पर क्लिक करे, जैसे ऊपर दिखाया गया है।
  • ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने स्क्रीन पर इस प्रकार का फॉर्म open होगा।
parivarik labh yojana online form
  • रजिस्ट्रेशन फॉर्म पूछी गयी सभी जानकारी जैसे जनपद , निवासी ,आवेदक विवरण ,बैंक अकाउंट विवरण, मृतक का विवरण आदि दर्ज करे।
  • वेरीफाई करने के लिए दिए गए कैप्चा कोड को दर्ज करे।
  • सभी जानकारी को भरने के बाद सबमिट के बटन पर क्लिक करे।
  • इस तरह आपक पंजीकरण आसानी से हो जाएगी।

आवेदन पत्र का प्रिंट आउट

इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन पत्र सफलतापूर्वक भरने के बाद उसकी रसीद का प्रिंट आउट निकाल लेना आवश्यक है, क्योंकि उम्मीदवार को इसे जिला कार्यालय में जमा करना होता है।

सभी दस्तावेज उम्मीदवार द्वारा स्व प्रमाणित होना चाहिए। साथ ही, जब आप इस आवेदन पत्र को जिला कार्यालय में जमा कर रहे हैं, तो सभी दस्तावेजों की एक प्रति उम्मीदवार के पास भविष्य में उपयोग के लिए आवश्यक है।

परिवार के पंजीकरण का प्रमाण:- जिस परिवार के मुखिया की मृत्यु हो गई है,उसका प्रमाण पत्र, जो दर्शाता है कि वह अकेला व्यक्ति था जो परिवार के लिए कम आ रहा था या परिवार का मुखिया कह सकते हैं। इसके लिए आवेदक अपना राशन कार्ड जमा कर सकते हैं।

सी बी आई (CBI) बैंक खातों की जानकारी:- राशि उम्मीदवार के बैंक खाते में स्थानांतरित कर दी जाएगी, इसलिए यह आवश्यक है कि आवेदकों को अपने सी बी आई बैंक खाते की जानकारी के साथ साथ पासबुक को कॉपी फॉर्म के साथ संकलन करना होगा।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना आवेदन की स्थिति कैसे देखे?

इस योजना के अंतर्गत आवेदन करने के बाद अपने आवेदन की स्थिति की जांच करने के लिए नीचे दिए गए Steps को फॉलो करे:

  • सबसे पहले समाज कल्याण विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएँ।
  • होम पेज से “आवेदन पत्र की स्थिति” के विकल्प पर क्लिक करे।
  • विकल्प पर क्लिक करने के बाद आपके समाने इस तरह का पेज open होगा।
Awedan Ki Sthiti Kaise Check Kare
  • दिए गए फॉर्म में आवश्यक जानकारी जैसे डिस्ट्रिक्ट, अकाउंट नंबर, रजिस्ट्रेशन नंबर आदि दर्ज करे।
  • इसके बाद सर्च के बटन पर क्लिक करे।
  • क्लिक करते ही आपके सामने आवेदन की स्थिति आ जाएगी।

राष्ट्रीय पारिवारिक लाभ योजना का निष्कर्ष

उत्तर प्रदेश सरकार ने परिवार के मुखिया की मृत्यु की स्थिती के लिए एक नई योजना शुरू की है। राज्य के समाज कल्याण विभाग को उत्तर प्रदेश में राज्य को सफलतापूर्वक चलाने की जिम्मेदारी दी गई है।

इस योजना के तहत समाज कल्याण विभाग यूपी मुखिया की मौत में ₹30,000 की मदद देता है। इस योजना का लाभ ग्रामीण और शहरी दोनों क्षेत्रों में रहने वाले निवासियों को दिया जाएगा। उत्तर प्रदेश राष्ट्रीय परिवार लाभ योजना का मुख्य उद्देश्य उन परिवारों को वित्तीय सहायता प्रदान करना है जिनके परिवार के मुखिया की मृत्यु हो गई हो और कमाने वाला कोई  व्यक्ति न हो।

टोल फ्री नंबर – 18004190001

इसे भी पढ़े,

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनाप्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना
प्रधानमंत्री सौभाग्य योजनाPradhan Mantri Solar Panel Yojana

Leave a Comment