ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम 2023: DL New Rules

भारत के केंद्रीय सड़क और परिवहन मंत्रालय ने ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने एवं संचालन के नियमों में संशोधन किया है. तथा नए नियम 1 जुलाई 2022 से लागू भी कर दिए गए हैं. ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम के अनुसार अब लोगों को आरटीओ जाने और अपना डीएल बनवाने के लिए लंबी लाइनों में इंतजार करने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

क्योंकि, ड्राइविंग लाइसेंस सम्बंधित कार्य राज्य परिवहन प्राधिकरण यानि केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटर के जरिए होगा. सरकार ने यह मान्यता ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटर को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए टेस्ट लेने का अधिकार दे दिया है. यदि आप भी अपना ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन करना चाहते है, तो नए नियम के मुताबिक ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना अब सरल हो गया है.

Driving license new update के जरिए अपने नजदीकी center से या मोबाइल से ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन महज कुछ ही मिनटों में कर सकते है. यहाँ ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम 2022 के समबन्ध में सभी जानकारी उपलब्ध है जिसे समझना प्रत्येक ड्राइविंग लाइसेंस धारक के लिए आवश्यक है.

ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम कम से लागु है?

अब तक हुए ड्राइविंग लाइसेंस के नियम में बदलाव, वो सभी 1 जुलाई 2022 से लागू हो चुके है. अर्थात, नए नियम के अनुसार ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना, DL स्टेटस चेक करना, रिन्यूअल करना आदि सरल हो गया है.

क्योंकि, ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए टेस्ट देना अनिवार्य था. लेकिन, अब ड्राइविंग लाइसेंस के नियमों में बदलाव के मुताबिक किसी भी प्रकार का टेस्ट नहीं देना पड़ेगा. ड्राइविंग लाइसेंस से जुड़े नए नियम 1 जुलाई 2022 से लागू हो चुके है. इसके बाद ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए लंबी कतारों से राहत मिलेगी.

Driving Licence में हुए बदलाव सिर्फ ड्राइविंग लाइसेंस तक सिमित नहीं है. बल्कि प्राइवेट ड्राइविंग ट्रेनिंग सेण्टर खोलने के लिए एक प्रावधान सुनिश्चित किया गया है जिसका शुरुआत 1 जुलाई 2022 से हो चूका है.

ड्राइविंग लाइसेंस न्यू रूल्स 2023

देशभारत
लाभार्थीभारत के नागरिक
ड्राइविंग लाइसेंस अपडेटNew
वर्ष2023
वाहन2, 4, 8 व्हीलर
राज्यAll States
LicenseCompulsory
Official Websiteparivahan.gov.in

ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम के प्रमुख तथ्य

  • युवाओं को ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए किसी भी प्रकार का ड्राइविंग टेस्ट देने की आवश्यकता नही है.
  • अर्थात, ड्राइविंग लाइसेंस सम्बंधित जानकारी अपने नजदीकी center पर दर्ज करा सकते है.
  •  ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए आरटीओ ऑफिस जाने की भी जरूरत नहीं होगी. क्योंकि, अब यह काम घर बैठे कर सकते हैं. 
  • आरटीओ में बिना किसी टेस्ट के प्रशिक्षण प्रमाण पत्र के आधार पर जारी किया जाएगा.
  • आरटीओ ऑफिस गए बगैर ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए केवल मोटर ट्रेनिंग स्कूल से एक सर्टिफिकेट की जरूरत पड़ेगी.
  • अब मान्यता प्राप्त ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटर को ड्राइविंग लाइसेंस के लिए टेस्ट लेने या इससे सम्बन्धी कार्य का अधिकार दे दिया है.

इसे ही पढ़े,

ड्राइविंग स्कूल के लिए ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम

  • यदि ट्रेनर स्कूल में किसी युवा को ड्राइविंग की ट्रेनिंग दी रही है, तो उसकी ड्राइविंग लाइसेंस बनाने के लिए उसे बारहवीं कक्षा पास होना और 5 साल का ड्राइविंग अनुभव होना अनिवार्य है. तथा उसे यातायात नियमों की अच्छी जानकारी भी होनी चाहिए.
  • ड्राइविंग सेंटर द्वारा युवाओं को दो पहिया, तीन पहिया, या घर के मोटर के लिए ट्रेनिंग दिया जा रहा हो, तो इस स्थिति में उनके पास कम से कम 1 एकड़ जमीन होना अनिवार्य है.
  • हैवी मोटर वाहन अथवा यात्री वाहनों या टेलर के लिए सेंटर के पास कम से कम 2 एकड़ की जमीन होना अति आवश्यक है.
  • इस स्थिति में वे अपना ड्राइविंग ट्रेनिंग स्कूल अथवा सेंटर चलाने योग्य माने जाएँगे.

ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम के अनुसार आवेदन ऐसे करे

  • सड़क परिवहन राजमार्ग मत्रालय भारत सरकार के अधिकरिक वेबसाइट के होम पर आने के बाद होम पेज अपना राज्य सेलेक्ट करे.
  • नए पेज से अपना राज्य सेलेक्ट करने के बाद एक नया पेज खुलेगा. जसपर विभिन्न प्रकार के विकल्प उपलब्ध होंगे. उन विकल्पों में से Apply for learner License के विकल्प पर क्लिक करे.
  • इसके बाद एक नया पेज खुलेगा, इस पर से “Continue” के विकल्प पर क्लिक करे
  • इसके पश्चात् एक नया पेज खुलेगा, वहाँ से Applicant does not hold any Driving/Learner licence issued in India के विकल्प पर टिक कर “Submit” कर विकल्प पर क्लिक करे
  • क्लिक करते ही नए पेज पर इस प्रकार के विकल्प दिखाई देंगे.
  • Submit via Aadhaar Authentication
  • Submit without Aadhaar Authentication
  • अपने सुविधा के अनुसार विकल्प का चयन करे.
  • फॉर्म में पूछी गई सभी जानकारी दर्ज कर “Authenticate” के विकल्प पर क्लिक करे
  • इसके बाद आरटीओ ऑफिस पर और अपना टेस्ट दे और पास होने के बाद अपना Learning License प्राप्त करे.

Note: ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम इस प्रकार है. इस नियम को फॉलो कर ऑनलाइन आवेदन भी कर सकते है.

पूछे गए प्रश्न: FAQs

Q. ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम क्या है?

ड्राइविंग लाइसेंस के नए नियम के अनुसार ड्राइविंग लाइसेंस बनवाने के लिए RTO ऑफिस जाने की जरुरत नही है. बल्कि घर बैठे ऑनलाइन आवेदन के माध्यम से ड्राइविंग लाइसेंस बनवा सकते है.

Q. क्या नए नियम के अनुसार RTO ऑफिस जाना आवश्यक है?

नही, राज्य परिवहन प्राधिकरण या केंद्र सरकार द्वारा चलाए जा रहे ड्राइवर ट्रेनिंग सेंटर के द्वारा भी ड्राइविंग लाइसेंस बनाया जा सकता है.

Q. ड्राइविंग लाइसेंस का नया नियम कम से शुरू हुआ?

ड्राइविंग लाइसेंस में हुए नए नियम 1 जुलाई 2022 से शुरू हुआ है. इसके अंतर्गत ड्राइविंग लाइसेंस के लिए ऑनलाइन आवेदन सुनिश्चित कर सकते है.

Q. ड्राइविंग लाइसेंस की वैलिडिटी कितने साल की होती है?

निजी ड्राइविंग लाइसेंस प्राप्त होने की तारीख से 20 साल तक वैध है तथा 40 साल की उम्र के बाद ड्राइविंग लाइसेंस 10 या 5 साल बाद जारी किया जा सकता है.

Leave a Comment