बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना 2023: ऑनलाइन आवेदन

बिहार कोरोना सहायता अनुदान योजना के लिए icdsonline.bih.nic.in पर ऑनलाइन आवेदन Bihar Anganwadi Labharthi Yojana के तहत आमंत्रित कर रही है। प्रदेश की गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्र के माध्यम से भोजन, सूखा राशन आदि उपलब्ध कराकर मदद की जा रही है।

प्राधिकरण लाभार्थियों के खाते में सीधे 1,000 रुपए भेजेगा। जो लोग Bihar Anganwadi Labharthi Yojana का लाभ लेना चाहते हैं वे उपलब्ध ऑनलाइन फॉर्म भर सकते हैं। इन योजनाओं से आंगनबाड़ी से जुड़े बच्चों और महिलाओं को कुछ धन मिलेगा और कुछ हद तक उनका जीवन इस अवस्था में और अधिक समृद्ध हो जाएगा।

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना क्या है?

दरअसल, बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना के तहत गर्भवती महिलाओं की तरह छह महीने से 6 साल तक के बच्चों को खाना और पैसा सीधे उनके बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाएगा। बहुत से लोगों को भोजन नहीं मिल रहा है इसलिए आंगनबाड़ी के माध्यम से लोगों को भोजन के साथ- साथ धन भी मिलेंगा। बिहार सरकार ने फंड की घोषणा की है जो सीधे बैंक खाते में ट्रांसफर किया जाएगा।

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि पूरे देश में लॉकडाउन का माहौल था और ऐसे में हमारा बिहार भी लॉकडाउन की मार को झेल रहा था। सोशल डिस्टेंस का पालन करना सभी के लिए जरूरी था।

इसलिए, गर्भवती महिलाएं व आंगनबाड़ी बच्चे आंगनबाड़ी केंद्रों पर नहीं जा पा रहे थे। अतः बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना के तहत इन महिलाओं एवं बच्चों को समेकित बाल विकास सेवा विभाग के माध्यम से भोजन प्रदान किया जा रहा है। आंगनबाड़ी हितग्राहियों के स्थान पर राशन सीधे बिहार आंगनबाड़ी हितग्राही के बैंक खाते में राशि अंतरित करने की व्यवस्था की जाती है।

अवश्य पढ़े,

Anganwadi Labharthi Yojana Bihar Highlights

योजना का नामबिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना
विभागसमाज कल्याण विभाग
शुरू की गयीबिहार सरकार द्वारा
लाभार्थीगर्भवती महिलाएं, 6 महीने से 6 वर्ष के बच्चे, अर्थात
आँगन बाड़ी केंद्र में पंजीकृत महिलाएं एवं बच्चे
उद्देश्यपोषण व आहार के लिए राशि सहायता
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन
स्टेटसएक्टिव
ऑफिसियल वेबसाइटicdsonline.bih.nic.in

बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी का उद्देश्य

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना का मुख्य उद्देश्य गर्भवती महिलाओं और आंगनबाड़ी में पंजीकृत बच्चों तक आहार एवं पोषण पहुँचाना व उनकी आर्थिक तथा स्वास्थ्य सहायता प्रदान करना है। ताकि संक्रमण जैसी बिमारियों से उन्हें बचा जा सके। हालाँकि, लॉक डाउन के कारण आहार एवं पोषण पदार्थ गर्भवती महिलाओं और बच्चों तक पहुँचाना संभव नहीं हो पाया है।

इसलिए, Bihar Anganwadi Labharthi Yojana के माध्यम से सभी लाभार्थियों को लाभान्वित किया जा रहा है। इसके लिए अब बिहार सरकार द्वारा लाभार्थियों को प्रत्येक महीने मिलने वाले सूखे राशन व पके हुए भोजन के बदले पैसे उनके बैंक अकाउंट में सीधे ट्रान्सफर किए जाएंगे।

ईसके लिए सभी लाभार्थी को राज्य सरकार के ऑफिसियल वेबसाइट से ऑनलाइन फॉर्म भरना अनिवार्य होगा। तत्यापश्चात ही आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना का लाभ प्राप्त करने योग्य होंगे।

बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना की विशेषताएं

  • कोरोना वायरस संक्रमण के कारण बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना के माध्यम से दिए गए भोजन और टीएचआर के स्थान पर सीधे बैंक खाते में समान राशि का भुगतान किया जाएगा।
  • आंगनबाड़ी के पंजीकृत लाभार्थी को ऑनलाइन आवेदन पत्र भरना होगा।
  • ऑनलाइन फॉर्म मोबाइल ऐप और वेबसाइट के जरिए भरा जा सकता है।
  • बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना केंद्रों में छह माह से छह वर्ष तक के आयु वर्ग के बच्चों एवं गर्भवती एवं दूध पिलाने वाली माताओं को उनके बैंक खाते में भोजन और सूखा राशन के बदले नकद समतुल्य राशि दी जाएगी।

बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना के लाभ

  1. बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना का लाभ राज्य की गर्भवती महिलाओं एवं बच्चों को आंगनबाड़ी केंद्रों में मिलेगा, भोजन एवं पका हुआ राशन प्राप्त होगा।
  2. बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना के अंतर्गत समाज कल्याण विभाग के आंगनबाड़ी हितग्राहियों, एकीकृत बाल विकास सेवा एवं बिहार में आंगनबाड़ी केंद्रों के माध्यम से राशि सीधे बैंक खाते में अंतरित की जाएगी बल्कि पंजीकृत हितग्राहियों को राशन दिया जाएगा।
  3. 30 मार्च 2020 को समाज कल्याण विभाग एकीकृत बाल विकास सेवा ने एक आधिकारिक अधिसूचना जारी की,  कि सरकार छह महीने से 6 साल के बच्चों और गर्भवती महिलाओं को भोजन और सूखा राशन उपलब्ध कराएगी।

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना के लिए पात्रता मानदंड

  • आंगनबाड़ी केंद्रों में पंजीकृत बच्चे
  • दूध पिलाने वाली वाली महिला
  • गर्भवती महिला
  • इसके साथ ही साथ
  • आधार कार्ड
  • आवेदक बिहार राज्य का निवासी होना चाहिए।
  • मूल निवास
  • बैंक अकाउंट
  • मोबाइल नंबर।
  • पोर्ट साइज फोटो।

इसे भी पढ़े,

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना के शर्तें

  • केवल पात्र बिहार आंगनबाड़ी लाभ योजना के लाभार्थी ही अपना आवेदन जमा कर सकते हैं।
  • आंगनबाड़ी का लाभ परिवार का कोई एक सदस्य ले सकता है। यदि आवेदन पति और पत्नी दोनों के नाम से अलग अलग प्रस्तुत किया जाता है तो उसे अस्वीकार कर दिया जाएगा।
  • आवेदन पति या पत्नी के नाम से यानी किसी एक के नाम पर जमा कर सकते हैं और लाभ उठा सकते हैं।
  • आवेदक के पास एक बैंक खाता होना चाहिए और उस खाते से आधार कार्ड जुड़ा होना चाहिए।
  • आवेदन जमा करने से पहले, आपको अपने फ़ोन नंबर, पता, नाम और वार्षिक आय की सही जानकारी देनी होगी।
  • आवेदक के पास आधार कार्ड और वोटर आईडी कार्ड अवश्य होना चाहिए।
  • आवेदक को पहले से आवेदन जमा करने की कोई आवश्यकता नहीं है। बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी आवेदन अब ऑनलाइन जमा किए जा सकते हैं।

बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना के लिए दस्तावेज

  • आवेदक बिहार राज्य का स्थायी निवासी होना चाहिए।
  •  आवेदक आंगनबाड़ी से संबंधित होना चाहिए।
  •  आधार कार्ड
  •  निवास प्रमाण पत्र
  •  बैंक खाता पासपोर्ट
  •  बैंक शाखा IFSC code
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

बिहार आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना में आवेदन कैसे करें

राज्य सरकार द्वारा प्रदान की गई अधिकारिक वेबसाइट से आंगनबाड़ी लाभार्थी योजना में आवेदन कर सकते है। यदि आपको आवेदन करने की प्रक्रिया ज्ञात नही है, तो निचे दिए गए steps को फॉलो कर ऑनलाइन आवेदन सरलता से कर सकते है:

  • सबसे पहले CDS की ऑफिसियल वेबसाइट पर जाएं।
  • ऑफिसियल वेबसाइट का होम पेज इस प्रकार खुलेगा
Bihar Anganwadi
  • Screen shot में दिखाए तीर यानि “सीधे बैंक खाता में भुगतान हेतु ऑनलाइन निबंधन” के लिए यहाँ क्लिक करे पर क्लिक करे
  • क्लिक करने के पश्चात् इस प्रकार का एक पेज खुलेगा
Bihar Anganwadi Labharthi Yojana panjikaran
Bihar Anganwadi Labharthi Yojana Form
  • आंगनबाड़ी आवेदन फॉर्म में पूछी गई सभी आवश्यक जानकारी दर्ज करे
  • पुनः कैप्चा कोड दर्ज कर रजिस्टर के विकल्प पर क्लिक करे
  • इस प्रकार आपका Bihar Anganwadi Labharthi Yojana में आवेदन हो पाएगा

बाल विकास सेवा ICDS आंगनवाड़ी लाभार्थी लिस्ट

बिहार के सभी जिलों की आँगनबाड़ी सूची को पोर्टल पर ऑनलाइन उपलब्ध उपलब्ध है। जिसे जिले के अनुसार जिले में मौजूद सभी आँगनबाड़ी केंद्रों का रिकॉर्ड ऑनलाइन प्राप्त कर सकते है।

जिले का नामजिले का नाम
पटनामधेपुरा
कटिहारपूर्वी चम्पारण
लखीसरायबांका
जमुईमुंगेर
भोजपुरनवाडा
चम्पारणसहरसा
सीतामढ़ीगोपालगंज
भापबेगूसराय
अरवलशैली
खगरियाजहानाबाद
समस्तीपुरमुजफ्फरपुर
सिवानशेखपुरा
औरंगाबादसारण
भागलपुरदरभंगा
कैमूरशिवहर
किसनगंजनालंदा
पूर्णियामधुबनी
रोहतासवैशाली

FAQs

1) बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना की शुरुआत कब की गई?

 राज्य सरकार के द्वारा बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना की शुरुआत 30 मार्च 2020 को कोरोना महामारी के दौरान की गई।

2) बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए कौन पात्र है?

 राज्य के वह सभी बच्चे जो छह माह की आयु से छह वर्ष की उम्र के हैं एवं इसके साथ ही दूध पिलाने वाली महिलाएं और गर्भवती महिलाएं बिहार आंगनवाड़ी लाभार्थी योजना में ऑनलाइन फॉर्म भरने के पात्र हैं।

3) बिहार आंगनबाड़ी टोकन कैसे प्राप्त करें?

  •  नवीन पंजीकरण
  •  पंजीकरण संशोधन
  •  पंजीकरण ड्राफ्ट
  •  पंजीकरण लॉक
  •  पंजीकरण फाइनल प्रिंट
  •  भुगतान हेतु बैंक स्थिति
  •  लॉक के उपरांत टोकन बना

4) गर्भवती महिलाओं को आंगनबाड़ी से क्या क्या मिलता है?

 इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा पहली बार गर्भवती होने वाली महिलाओं को ₹5000 की धनराशि प्रदान की जाएगी। इस योजना के अंतर्गत प्रसव की कोई शर्त नहीं है। लाभार्थी प्रसव सरकारी या फिर प्राइवेट किसी भी अस्पताल में करवा सकती है। दिवाली से पहले या धन राशि गर्भवती महिलाओं के पोषण के लिए प्रदान की जाती है।

Leave a Comment