बिहार नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट कैसे देखे

राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम यानी नरेगा जॉब कार्ड बिहार के जरिये देशभर के विभिन्न राज्यों में लोगों को रोजगार दिया जा रहा है। इस योजना के तहत बिहार राज्य के ग्रामीण नागरिको और शहरी नागरिको को साल के 100 दिनों के लिए गारंटी के साथ रोजगार दिया जाता है। बिहार नरेगा योजना में हर साल कुछ नए लोगों के नाम जुड़ते हैं, जबकि कुछ लोगों के नाम हटा दिए जाते हैं।

इसे हम महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम यानी मनरेगा के नाम से भी जानते हैं। इसके अनुसार देश के ग्रामीण क्षेत्रों में रहने वाले ऐसे परिवार जिनमें व्यसक सदस्य और आकुशल शारीरिक कार्य करने के लिए उपयुक्त है। उन्हें वर्ष की 100 दिनों की गारंटी के साथ मजदूरी का काम प्रदान करके रोजगार उपलब्ध कराना होता है।

यहाँ NREGA Job Card List Bihar कैसे चेक करे के सन्दर्भ में सभी आवश्यक जानकारी प्रदान किया जाएगा, जिससे आप सरलता से नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट में अपना नाम देख सकते है।

बिहार नरेगा जॉब कार्ड

जैसा कि आप जानते हैं महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम के तहत बेरोजगार मज़दूरों को मनरेगा के तहत साल में 100 दिन रोजगार दिया जाता है। जिन लोगों का नाम बिहार नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट में होगा, उन्हीं लोगों को महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम के तहत रोजगार दिया जाएगा।

जहाँ पहले मनरेगा योजना का लाभ केवल ग्रामीण क्षेत्रों के निवासियों को दिया जाता था। लेकिन अब महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम के तहत शहरी क्षेत्रों में रहने वाले आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोगों को भी इस योजना के लिए पात्र माना जाता है।

अब शहरी क्षेत्रों में रहने वाले आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के लोग भी अपना बिहार नरेगा जॉब कार्ड बनवा सकते हैं। और मनरेगा के तहत रोजगार प्राप्त कर सकते हैं।

अवश्य पढ़े,

मनरेगा बिहार मजदूरी के लिए जारी किए गए नए नियम

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि देश में कोरोना की वजह से एक भारी संकट आन पड़ी है। प्रवासी मजदूर भी अपना- अपना धंधा छोड़कर अपने राज्य को लौट रहे हैं। ऐसे में उनके राज्य में नरेगा के तहत उन्हें ही रोजगार मिल रहा है।

लेकिन सरकार ने नरेगा के तहत रोजगार पाने के लिए एक नए नियम जारी किए हैं। अब नरेगा में 60 साल से अधिक उम्र के मज़दूरों को रोजगार नहीं दिया जाएगा। साथ ही जो लोग बीमार हैं उन्हें भी इस योजना के तहत रोजगार नहीं मिल पाएगा। क्योंकि, सरकार स्वास्थ्य जागरूकता दिखा रही है ताकि इस बिमारी और बेरोज़गारी पर काबू पाया जा सके।

NOTE:- इसके साथ ही सरकार मज़दूरों को केवल सरकारी खर्च पर साबुन और मांस को उपलब्ध कराएगी।

Nrega Job Card List Bihar Highlights

रोजगार का साधनबिहार नरेगा जॉब कार्ड
मंत्रालयग्रामीण विभाग सरकार मंत्रालय, बिहार
राज्य का नामबिहार
लाभार्थीग्रामीण व शहरी निवासी
उद्देश्यगरीब वर्ग के लोगो को रोजगार की सुविधा प्रदान करना
लिस्ट देखने की प्रक्रियाऑनलाइन प्रक्रिया
वर्ष2023
आवेदन प्रक्रियाऑनलाइन/ऑफलाइन
आधिकारिक वेबसाइट लिंकhttps://nrega.nic.in/

नरेगा में किए जाने वाले कार्य

  • आवास निर्माण कार्य
  • मार्ग  निर्माण कार्य
  • चक बांध कार्य
  • गौशाला निर्माण कार्य
  • वृक्षारोपण कार्य
  • सिंचाई कार्य

नरेगा में हुए भुगतान की स्थिति चेक करे

  • वे उम्मीदवार जिन्होंने अपना मनरेगा श्रम 100 दिन का काम पूरा कर लिया है।
  •  और अब सभी उम्मीदवार अपने मनरेगा भुगतान की जांच करना चाहते हैं।
  •  वे सीधे बैंक खाते के माध्यम से अपने मनरेगा भुगतान की जांच कर सकते हैं।
  •  उम्मीदवार के नरेगा काम का भुगतान बैंक खातों के माध्यम से www.nrega.nic.in  पर होता है।
  •  उम्मीदवार अपने बैंक मैं मनरेगा जॉब कार्ड संकलन करते हैं।
  •  फिर अपनी बैंक पासबुक दर्ज करते हैं और सभी बैंक लेन देन की जांच करते है।
  • यदि खाते में भुगतान आया है तो आप मुद्रित बैंक पासबुक के बारे में अपनी पास बुक प्रविष्टि विवरण देख सकते हैं।

मनरेगा बिहार जॉब कार्ड के तहत मिलने वाले लाभ

लाभार्थी को मनरेगा बिहार जॉब कार्ड से कई लाभ मिलते हैं जो कुछ इस प्रकार है:-

  • नरेगा योजना के तहत ग्रामीण क्षेत्रों और शहरी क्षेत्रों दोनों को लाभ दिया जाता है।
  • इस योजना के तहत रोजगार के अवसर प्रदान किए जाते हैं।
  •  रोज़गार के तहत प्रदान की गई राशि सीधे लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जाती है।
  •  लॉकडाउन में प्रवासी मज़दूरों को नरेगा के तहत काम भी दिया गया था।
  • मनरेगा योजना में एक वर्ष में 100 दिन का रोजगार प्रदान किया जाता है।
  •  इस योजना के तहत एक बार में 15 दिनों के लिए मास्टर के माध्यम से काम दिया जाता है।
  •  नरेगा जॉब कार्ड में परिवार के पांच सदस्यों के नाम लिखे जा सकते हैं।
  •  वित्त मंत्री ने नरेगा के तहत दी जाने वाली मजदूरी को बढ़ाकर ₹202 रुपये करने की घोषणा की है।
  •  इससे लाभार्थियों को अधिक मदद मिले गी।

मनरेगा बिहार मजदूरी

यह योजना देश के सभी राज्यों में लागू की गई है। लेकिन इस योजना के तहत सभी राज्यों में अलग अलग मजदूरी दी जाती है। बिहार सरकार ने नरेगा का वेतन 2017- 18 में ₹168 रखा था। वर्ष 2018- 19 में भी नरेगा की मजदूरी ₹168 ही थी। लेकिन वर्ष 2019- 20 में सिर्फ ₹3 की बढ़ोतरी हुई जिससे मजदूरी ₹171 हो गयी।

इसे भी पढ़े,

जिलों की लिस्ट जिसका नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट ऑनलाइन उपलब्ध है

Siwan (सीवान)Shiekhpura (शेखपुरा)
Arwal (अरवल)Samastipur (समस्तीपुर)
Patna (पटना)Muzaffarpur (मुजफ्फरपुर)
Aurangabad (औरंगाबाद)Gopalganj (गोपालगंज)
Rohtas (रोहतास)Araria (अररिया)
Katihar (कटिहार)Nawada (नवादा)
Bhagalpur (भागलपुर)Banka (बाँका)
Bhojpur (भोजपुर)Purnea (पूर्णिया)
West Champaran (पश्चिमी चम्पारण)Jamui (जमुई)
Darbhanga (दरभंगा)Saharsa (सहरसा)
East Champaran (पूर्वी चम्पारण)Kishanganj (किशनगंज)
Gaya (गया)Saran (सारन)
Sheohar (शिवहर)Begusarai (बेगूसराय)
Buxar (बक्सर)Khagaria (खगड़िया)
Jehanabad (जहानाबाद)Sitamarhi (सीतामढ़ी)
Kaimur (कैमूर)Madhubani (मधुबनी)
Monghyr (मुंगेर)Vaishali (वैशाली)

इसे भी पढ़े,

ऑनलाइन बिहार नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट चेक कैसे करे?

कोई भी नागरिक ग्रामीण विकास मंत्रालय की ऑफिसियल वेबसाइट से नरेगा जॉब कार्ड list बिहार सरलता से निकाल सकते है. निचे कुछ steps दिए गए है जिसे आप फॉलो कर सकते है:

  • सबसे पहले नरेगा जॉब कार्ड लिस्ट चेक करने के लिए Ministry Of Rural Development, Government Of India की ऑफिसियल वेबसाइट जाएँ
  • होम पेज से डाटा एंट्री कॉलम में जनरेट रिपोर्ट का विकल्प दिखाई देगा, उसपर क्लिक करें
Nrega Job Card List Check
Nrega Job Card List Bihar Check
  • इस पेज पर सभी राज्यों का नाम दिखाई दे रहा है, आप अपने अनुसार राज्य का चयन करे
  • इस पेज से फाइनेंसियल ईयर, जिला, ब्लॉक, पंचायत का विवरण दर्ज कर प्रोसीड पर क्लिक करे
  • क्लिक करने के बाद इस प्रकार का एक पेज खुलेगा, जहाँ से Job card/Employment Register के विकल्प का चयन करे
  • क्लिक करते ही बिहार नरेगा जॉब कार्ड की सूचि स्क्रीन पर आ जाएगी
Nrega Job Card Bihar
  • इस पेज से नंबर पर क्लिक कर अपनी पूरी विवरण देख सकते है

पूछे जाने वाले प्रश्न: FAQs

Q. मनरेगा कौन से विभाग में आता है?

 देश भर में भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा राज्य सरकारों की सहायता से महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना यानी मनरेगा का क्रियान्वयन किया जा रहा है। यह योजना बीपीएल परिवारों के बेरोजगार लोगों को उनके घर से पांच किलोमीटर के दायरे में 100 दिन के काम की गारंटी देती है।

Q. मनरेगा में कितने घंटे का काम करना पड़ता है?

 जिला कार्यक्रम समन्वयक एवं कलेक्टर बीपीएल कोठारी ने बताया कि महात्मागांधी नरेगा योजनांतर्गत गर्मी के मौसम को देखते हुए श्रमिकों के लिए कार्य का समय सवेरे 6:30 बजे से दोपहर 2:00 बजे तक विश्राम काल को सम्मिलित करते हुए निर्धारित किया गया है। इस अवधि के दौरान सवेरे 10:30 बजे से प्रातः 11:00 बजे तक भोजन विश्राम का समय रहेगा।

Q. मनरेगा का संचालन कौन करता है?

 ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा संचालित महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना के तहत पात्र एवं इच्छुक परिवारों को जॉब कार्ड प्रदान किया जाता है।

Q. नरेगा में एक आदमी को कितना काम दिया जाता है?

नियमानुसार महात्मा गाँधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी योजना यानी मनरेगा के तहत पंजीकृत जॉबकार्ड धारक को साल में 100 दिन का रोजगार हर साल में उपलब्ध कराया जाना चाहिए। अभी तक मनरेगा मज़दूरों को 182 रुपए प्रतिदिन के हिसाब से मजदूरी दी जाती है। 100 दिन के हिसाब से साल में 18200 रुपये एक मजदूर को मिलते हैं

Leave a Comment